रब से सजन से Rab Se Sajan Se Jhuth Nahi Bolna Lyrics Hindi – Jaan

rab se sajan se lyrics
Love To Share

रब से सजन से लिरिक्स Rab Se Sajan Se Lyrics from Jaan movie. Sung by Udit Narayan and Alka Yagnik. Anand-Milind has composed the music and Anand Bakshi penned the lyrics. Song is picturised on Twinkle Khanna.

Song Credits:
Song Title/गाना: रब से सजन से झूठ नहीं बोलना rab se sajan se jhuth nahin bolna
जान Jaan(Year-1996)
Singer/गायक: Udit Narayan, Alka Yagnik
Music Director/संगीतकार: Anand – Milind
Lyrics Writer/गीतकार: Anand Bakshi
Star casts/अभिनीत किरदार: Ajay Devgn, Amrish Puri, Twinkle Khanna, Shakti Kapoor, Rakhee, Suresh Oberoi, Vivek Mushran, Aruna Irani, Bindu, Priya Arun
Music Label: Zee Music

Rab Se Sajan Se Lyrics in Hindi

सागर से धरती, धरती से पर्वत
पर्वत से ऊँचा गगन
ऊँचा गगन से और नहीं कोई
एक रब, दूजा सजन

सागर से धरती, धरती से पर्वत
पर्वत से ऊँचा गगन
ऊँचा गगन से और नहीं कोई
एक रब, दूजा सजन

रब से सजन से झूठ नहीं बोलना हां.. आं..
रब से सजन से झूठ नहीं बोलना
और किसी से दिल का भेद नहीं खोलना
और किसी से दिल का भेद नहीं खोलना

रब से सजन से झूठ नहीं बोलना
और किसी से दिल का भेद नहीं खोलना
और किसी से दिल का भेद नहीं खोलना

सावन की रात, साजन के साथ
बिलकुल अकेली
साफ साफ बोलो क्या है पहेली
साफ साफ बोलो क्या है पहेली

दे बैठी दिल, कर बैठी प्यार
नार अलबेली
कौन है वो कौन है बोलो सहेली
कौन है वो कौन है बोलो सहेली

ना जी ना उसका नाम नहीं बोलना होये
और किसी से दिल का भेद नहीं खोलना
और किसी से दिल का भेद नहीं खोलना

इस प्यार की, आगे सुनो
मुझसे कहानी
जौवन पे आयी इसकी जवानी
जौवन पे आयी इसकी जवानी

शर्मीले चाल, मस्तानी चाल
उसकी निशानी
तू तो नहीं वो लड़की दीवानी
तू तो नहीं वो लड़की दीवानी

यूँ घुरके देखो, मेरी ओर ना हां आं
और किसी से दिल का भेद नहीं खोलना
और किसी से दिल का भेद नहीं खोलना

रब से सजन से झूठ नहीं बोलना
और किसी से दिल का भेद नहीं खोलना
और किसी से दिल का भेद नहीं खोलना

ये मौसम है गीतों का
मनमीतो की प्रीतो का
आज के दिन का मेला है
कल पानी का रेला है

जाने क्या ले जायेगा
जाने क्या दे जायेगा
चल ओ ढोली ढोल बजा
कब क्या होगा किसे पता

Rab Se Sajan Se Jhuth Nahi Bolna Lyrics

Advertisement

Saagar se dharti, dharti se parvat
Parvat se uncha gagan
Uncha gagan se aur nahin koi
Ek rab, duja sajan

Saagar se dharti, dharti se parvat
Parvat se uncha gagan
Uncha gagan se aur nahin koi
Ek rab, duja sajan

Rab se sajan se jhuth nahi bolna haan.. aan..
Rab se sajan se jhuth nahi bolna
Aur kisi se dil ka bhed nahi kholna
Aur kisi se dil ka bhed nahi kholna

Rab se sajan se jhuth nahi bolna
Aur kisi se dil ka bhed nahi kholna
Aur kisi se dil ka bhed nahi kholna

Savan ki raat, saajan ke saath
Bilkul akeli
Saaf saaf bolo kya hai paheli
Saaf saaf bolo kya hai paheli

De bethi dil, kar baithi pyaar
Naar albeli
Kaun hai vo kaun hai bolo saheli
Kaun hai vo kaun hai bolo saheli

Naa ji naa uska naam nahi bolna haaye
Aur kisi se dil ka bhed nahi kholna
Aur kisi se dil ka bhed nahi kholna

Iss pyaar ki, aage suno
Mujhse kahaani
Joban pe aayi iski jawaani
Joban pe aayi iski jawaani

Sharmile gaal, mastani chaal
Uski nishani
Tu to nahi wo ladki deewani
Tu to nahi wo ladki deewani

Yun ghurke dekho, meri aur naa haa aan
Aur kisi se dil ka bhed nahi kholna
Aur kisi se dil ka bhed nahi kholna

Rab se sajan se jhuth nahi bolna
Aur kisi se dil ka bhed nahi kholna
Aur kisi se dil ka bhed nahi kholna

Ye mausam hai geeton ka
Mann meeto ki preeto ka
Aaj ke din ka mela hai
Kal paani ka rela hai

Jaane kya le jayega
Jane kya de jayega
Chal o dholi dhol baja
Kab kya hoga kise pata


Love To Share