देख सकता हूँ मैं Dekh Sakta Hoon Main Lyrics – Majboor

dekh sakta hoon main lyrics
Image Credit: Shemaroo
Love To Share

Dekh Sakta Hoon Main Lyrics from Majboor movie. Sung by Kishore Kumar. Featuring on Amitabh bachchan, Farida Jalal.

Song Credits:
Song Title/गाना: देख सकता हूँ मैं कुछ भी होते हुए dekh sakta hu main kuch bhi hote hue
Movie: Majboor (Year-1974)
Singer/गायक: Kishore Kumar
Music Director/संगीतकार: Laxmikant Pyarelal
Lyrics Writer/गीतकार: Anand Bakshi
Star casts/अभिनीत किरदार: Amitabh Bachchan, Farida Jalal, Sulochana, Master Alankar
Music Label: Shemaroo Filmi Gaane

देख सकता हूँ Dekh Sakta Hoon Main Lyrics In Hindi

देखा फूलों को काँटों पे सोते हुए
देखा तूफ़ाँ को कश्ती डुबोते हुए
देख सकता हूँ मैं कुछ भी होते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए

देख सकता हूँ मैं कुछ भी होते हुए
देख सकता हूँ मैं कुछ भी होते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे.. रोते हुए

एक दिन बिगड़ी क़िस्मत संवर जाएगी
एक दिन बिगड़ी क़िस्मत संवर जाएगी
ये ख़ुशी हमसे बचकर किधर जाएगी
ग़म न कर ज़िन्दगी यूँ गुज़र जाएगी

रात जैसे गुज़र गई सोते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे.. रोते हुए

तूभी सुन ले जो मैने सुना एक दिन
तूभी सुन ले जो मैने सुना एक दिन
बाग में सैर को मैं गया एक दिन
एक मालन ने मुझसे कहा एक दिन

Advertisement

खेल काँटों से कलियाँ पिरोते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए

देख सकता हूँ मैं कुछ भी होते हुए
देख सकता हूँ मैं कुछ भी होते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे.. रोते हुए

आँख भर आई फिर क्यों किसी बात पर
आँख भर आई फिर क्यों किसी बात पर
कर भरोसा बेहन भाई की बात पर
बाँध राखी ना रोकर मेरे हाथ पर
मुस्करा दे ज़रा यूँ ही रोते हुए

नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए

देख सकता हूँ मैं कुछ भी होते हुए
देख सकता हूँ मैं कुछ भी होते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए
नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए

Dekh Sakta Hoon Main Kuch Bhi Hote Hue Lyrics

Advertisement

Dekha phoolon ko katon pe sote hue
Dekha tufan ko kashti dubote hue
Dekh sakta hoon main kuch bhi hote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue

Dekh sakta hoon main kuch bhi hote hue
Dekh sakta hoon main kuch bhi hote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue

Ek din bigdi kismat sanwar jayegi
Ek din bigdi kismat sanwar jayegi
Ye khushi humse bach kar kidhar jayegi
Gam naa kar jindagi yun gujar jayegi

Raat jaise gujar gayi sote huye
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue

Tubhi sun le jo maine suna ek din
Tubhi sun le jo maine suna ek din
Baag mein sair ko main gaya ek din
Ek maalan ne mujhse kaha ek din

Khel kaanto se kaliyaan pirote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue

Dekh sakta hoon main kuch bhi hote hue
Dekh sakta hoon main kuch bhi hote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue

Aankh bhar aayi phir kyun kisi baat par
Aankh bhar aayi phir kyun kisi baat par
Kar bharosha behan bhai ki baat par
Bandh rokar na rakhi mere hath par
Muskurade jara yuhi rote huye

Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue

Dekh sakta hoon main kuch bhi hote hue
Dekh sakta hoon main kuch bhi hote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue
Nahi main nahi dekh sakta tujhe rote hue


Love To Share